क्या रोटावायरस वैक्सीन का टीका बच्चों के लिए जरूरी है? जानिए बचाव और फायदे – Rotavirus Vaccine in Hindi

Rotavirus Vaccine in Hindi: बच्चों को स्वास्थ्य रखना और बीमारी से बचना बहुत ही जरूरी है, ऐसे में हम लोग कई प्रकार के सावधानिया को बढ़ाते हैं उन्हें सावधानियां में से एक है टीकाकरण करवाना टीकाकरण में रोटावायरस का वैक्सीन लगवाना एक बहुत ही महत्वपूर्ण विषय है। वैक्सीन लगवाने से अधिक संक्रामक और संभावित गंभीर बीमारी से सुरक्षा देता है। रोटावायरस वैक्सीन को लगवाने से हम अपने बच्चों के स्वास्थ्य को बढ़ाते हैं।

Rotavirus Vaccine in Hindi

आपका स्वागत इस आर्टिकल में जिसमें मैं आज हम लोग बात करने वाले हैं Rotavirus Vaccine Uses के बारे में, जिसमें मैं आपको यह बताऊंगा कि रोटावायरस वैक्सीन का उपयोग, रोटावायरस बीमारी, रोटावायरस के लक्षण, रोटावायरस का डोज और रोटावायरस वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स के हैं। साथ ही साथ यह भी जानेंगे कि हम किन तरीकों से अपने बच्चों को रोटावायरस के इंफेक्शन से बचा सकते हैं।

Rotavirus Vaccine in Hindi | Price | Dose in ml

What is Rotavirus and Why is it Concerning? (रोटावायरस क्या है और यह क्यों चिंताजनक है?)

रोटावायरस एक बहुत ही संक्रामक वायरस है जो ज्यादातर शिशुओं और छोटे बच्चों को प्रभावित करता है, जिससे गैस्ट्रोएन्टराइटिस होता है। हम इसे आम तौर पर फ्लू के रूप में जानते हैं। यह वायरस हमारे फैकल लोक रूट से फैलता है जब संक्रमित व्यक्ति वायरस से दूषित सतहों और वस्तुओं को छूते हैं और उसके बाद अपना मुंह कुछ होता है तो इससे रोटावायरस फैलता है।

Rotavirus Vaccine in Hindi
Rotavirus Vaccine in Hindi

रोटावायरस बहुत ही जिला जनक इसलिए है क्योंकि इसके लक्षण में संक्रमित व्यक्ति को डायरिया, उल्टी, बुखार, और पेट में दर्द होता है, जिसके कारण पीड़ित को अस्पताल में लेकर जाया जाता है और ज्यादातर मामलों में मौत तक हो जाती है। वास्तव में, रोटावायरस वैक्सीन की शुरुआत से पहले, रोटावायरस पूरे दुनिया में डायरिया संबंधित मौत का कारण था।

The Importance of the Rotavirus Vaccine (रोटावायरस वैक्सीन का महत्व)

रोटावायरस वैक्सीन का विकास और उपयोग में पूरे बाल चिकित्सा स्वास्थ्य को बहुत ही तेजी से बदलकर रख दिया है। टीकाकरण से रोटावायरस संक्रमण के खतरे को काम करता है और साथ ही साथ यदि व्यक्ति में पहले से रोटावायरस हो तो लक्षणों पर भी असर डालता है। रोटावायरस वैक्सीन को लगवाने से आप अपने बच्चों को सुरक्षित ही नहीं बल्कि स्वास्थ्य प्रणाली का भी बोझ कम करते हैं।

Rotavirus Vaccine: Administration and Schedule (प्रशासन और अनुसूची)

रोटावायरस वैक्सीन को ज्यादातर मुंह से खिलाया जाता है ना की दूसरे वैक्सीन की तरह टीकाकरण करवाया जाता है। मुंह में खिलाने से चिकित्सा कर्मियों को बहुत ही आसानी पड़ता है और साथ ही साथ छोटे बच्चों को भी फायदा होता है जो सुई से डरते हैं। वैक्सीन को दो या तीनडोज में दिया जाता है पहले डोज 2 महीने के लिए लगाया जाता है।

Rotavirus Vaccine in Hindi
Rotavirus Vaccine in Hindi

रोटावायरस वैक्सीन को चिकित्सास लाह के तौर पर जिस ब्रांड का वैक्सीन है उसी के हिसाब से खाएं। फिर भी ज्यादातर मामलों में चार से आठ सप्ताह के बाद प्राथमिक डोज दे दिया जाता है। इस बात का ध्यान रखें की आपको जैसे उसी हिसाब से टीकाकरण लगे।

Efficacy and Safety (प्रभावकारिता और सुरक्षा)

बहुत सारे से यह पता चला है कि रोटावायरस वैक्सीन वायरस से 70% से लेकर 90% तक बचाव करता है। जैसाकी आप जानते हैं कि इस वैक्सीन की मदद से वायरस से काफी हद तक बचाया जा सकता है। इस वैक्सीन के फायदा के साथ-साथ कुछ साइड इफेक्ट भी हैं जैसे की चिड़चिड़ापन, हलका बुखार और दस्त। हम आपको बता दे की इसका साइड इफेक्ट बहुत ही कम है इसलिए यह हमारे बच्चों के लिए बहुत ही आवश्यक है।

Rotavirus Vaccine Price – रोटावायरस वैक्सीन का कीमत

एक महत्वपूर्ण बात जो अक्सर माता-पिता को चिंतित करता है की रोटावायरस वैक्सीन की कीमत क्या होगा, तो मैं आपको बता दूं कि इस वैक्सीन की कीमत बहुत ही कम है जो की ₹1 से लेकर ₹10 तक है। साथ ही साथ मैं आपको बता दूं कि इस वायरस की वैक्सीन सरकारी अस्पतालों में मुफ्त में दिया जाता है। सरकार की कई ऐसी योजनाएं हैं जिसके अंतर्गत आपके बच्चे को फ्री में वैक्सीन लगवा सकते हैं। फिर भी यदि आप दूसरे ब्रांड का वैक्सीन खरीदना चाहते हैं तो चिकित्सा सलाह लेकर खरीद सकते हैं।

Rotavirus Vaccine in Hindi
Rotavirus Vaccine Uses in Hindi

Conclusion

इस पूरे आर्टिकल का सारांश यह है कि अपने शिशुओं और बच्चों को एक जीवन-घातक बीमारियों से बचाने के लिए रोटावायरस वैक्सीन को लगाना बहुत ही महत्वपूर्ण है। रोटावायरस के खतरों को ही नहीं बल्कि पूरे समुदाय को भी एक बहुत ही खतरनाक बीमारी से बचाता है। इसके प्रभावकारिता और सुरक्षित का जांच पहले ही कर दिया गया है इसके कारण माता-पिता को इस वैक्सीन को लगाने से कोई भी खतरा महसूस नहीं होता और साथ ही साथ अपने बच्चों के स्वास्थ्य को भी सुरक्षा देते हैं।

Read Also: Zoonotic Virus Symptoms in Hindi: संक्रमण के लक्षण और बचाव

Read Also: PCOS Treatment in Hindi: सरल और प्रभावी उपाय

Disclaimer: इस वेबसाइट पर बताई गई सूचनाओं सामान्य जानकारी के रूप में है और इसे डॉक्टर का सलाह के रूप में नहीं चाहिए, हमारा उद्देश्य केवल सामाजिक जागरूकता बढ़ाना है और किसी भी रूप से इसे डॉक्टर या निदान के रूप में न ले। इस ब्लॉक में दी गई किसी भी सूचना या सुझाव का उपयोग करने से पहले व्यक्तिगत अपने स्वास्थ्यका जांच जरुर कर लें और विशेषज्ञ से सलाह प्राप्त करना सुनिश्चित कर लें। हम किसी भी व्यक्ति का चिकित्सा सलाह का जमावरी नहीं लेते हैं। 

Rotavirus Vaccine Price

इस वैक्सीन की कीमत बहुत ही कम है जो की ₹1 से लेकर ₹10 तक है। साथ ही साथ मैं आपको बता दूं कि इस वायरस की वैक्सीन सरकारी अस्पतालों में मुफ्त में दिया जाता है। सरकार की कई ऐसी योजनाएं हैं जिसके अंतर्गत आपके बच्चे को फ्री में वैक्सीन लगवा सकते हैं।

Rotavirus Vaccine Dose in ml in India

Seruminstitute के अनुसार इस की DOSAGE 6 सप्ताह की उम्र से शुरू करके, 4 सप्ताह के अंतराल पर 3-खुराक के रूप में दिया जा सकता हैं। 

Leave a Comment